राजनीति

hindi news portal lucknow

सीएम योगी बोले, सपा को बुलडोजर से है परेशानी, राजा महेंद्र प्रताप व एएमयू का भी किया जिक्र

06 Feb 2022 [ स.ऊ.संवाददाता ]

अलीगढ़। UP VIdhan Sabha Chunav पिछले विधानसभा की सभी सीट जीत चुकी भाजपा के लिए इस बार का चुनाव प्रतिष्‍ठा का सवाल बना हुआ है। मतदाताओं को लुभाने के लिए गृहमंत्री अमित शाह, सीएम योगी आदित्‍यनाथ, डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा समेत अलीगढ़ आ चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्‍वयं वर्चुअल रैली संबोधित कर चुके हैं। कई बार अलीगढ़ आ चुके सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने रविवार को अकराबाद के नानऊ पैंठ मैदान में जनसभा को संबोधित किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सपा को बुलडोजर से ज्यादा परेशानी हो गई है। समाजवादी नेता बताएं कि हमारे काम दिखाई दे रहे हैं। लेकिन आपने कोई विकास कराया, बोले, हमने कब्रिस्तान की बाउंड्रीबाल बनाई है। भाजपा की सरकार में सात सौ धाम, मंदिरों पर काम हुए हैं। अयोध्या विकसित हो रही है। काशी को अत्याधुनिक बनाया जा रहा है। मथुरा कैसे बच जाएगा। येे काम होने चाहिए न? बुलडोजर चलना चाहिए न ?राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर हमारी सरकार ने विश्वविद्यालय का निर्माण शुरू कराया। अलीगढ़ व उसके आसपास से आने वाले छात्रों को जब डिग्री मिलेगी तो उस डिग्री पर नाम होगा राजा महेंद्र प्रताप सिंह। तब उनके नाम के बारे में जानने को इच्छुक होंगे तब पता लगेगा कि महेंद्र प्रताप ने 1915 में भारत की अंतरिम सरकार का गठन अफगानिस्तान में रहकर कर दिया था। क्या राजा महेंद्र प्रताप के नाम पर विवि की स्थापना पहले क्यों नहीं हो पाई। जिस अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के लिए उन्होंने अपनी भूमि दान दी थी, उस यूनिवर्सिटी के अंदर राजा महेंद्र प्रताप के नाम से कोई शिलापट क्यों नहीं लग पाया था। कारण साफ है, देश के महापुरुषों के प्रति सम्मान का भाव नहीं था। कभी राजा महेंद्र प्रताप सिंह भुला तो कभी लोह पुरुष सरदार बल्लभवाई पटेल को भुला दिए जाते हैं।सीएम योगी ने कहा हमारी सरकार ने राजा महेंद्र प्रताप के नाम को आगे बढ़ाया। यही नहीं हमारी सरकार ने कल्याण सिंह के नाम पर लखनऊ में एक हजार करोड़ के कैंसर रिसर्च सेंटर का नाम कल्याण सिंह के नाम पर रखा है। भाजपा की डबल इंजन की सरकार में दंगे नहीं होते। अराजकता नहीं होती। गुंडागिर्दी नहीं हो सकती। बहन बेटियों की सुरक्षा के साथ कोई खिलवाड़ नहीं कर सकता। क्योंकि सबको मालूम है कि अगर दंगा करेंगे, बेटियों की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करेंगे तो दुर्योधन और दुशासन जैसे कांड हो जाएंगे। दंगा, फसाद सपा की सरकार से विरासत में मिला था। बरेली, कोसी कभी आगरा अलीगढ़ के दंगा। प्रदेश में सुरक्षा का वातावरण का कार्य हो।दंगा, फसाद सपा की सरकार से विरासत में मिला था। बरेली, कोसी कभी आगरा अलीगढ़ के दंगा। प्रदेश में सुरक्षा का वातावरण का कार्य हो। विकास के काम निरंतर आगे बढ़ रहे हैं। ये काम पहले भी हो सकते थे। सपा की सरकार की समय उनकी संवेदना गरीब, किसान, बेटियों की सुरक्षा के लिए नहीं थीं। उनकी संवेदना दंगाइयों के लिए थी। पेशेवर माफिया के प्रति थी। ये लोग माफिया को संरक्षण देकर किस तरह की अराजकता पैदा करते थे ये किसी से छिपा हुआ नहीं है। शाम में कार से आगरा रोड स्थित कैलाश फार्म हाउस में जनसभा को संबोधित किया।आदित्यनाथ ने कहा कि पहले यूपी से पलायन होता था अब प्रगति हो रही है क्योंकि दंगाइयों को पता है कि अगर वह धंधा करेंगे तो उनके गले में तख्ती टांग दी जाएगी। सीएम ने कहा की डिफेंस कारिडोर में जो तोप तैयार होगी उसपर बैठकर अलीगढ़ का युवा सीमा पर जाएगा और दुश्मन के छक्के छुड़ाने का काम करेगा। उन्‍होंने कहा विकास कार्य में लूट कैसे मचती थी, इसके उदाहण आपके सामने हैं। विकास का पैसा विवि. एयरपोर्ट, सड़क पर खर्च नहीं होता था। ये पैसा खानदान पर खर्च होता था या फिर इत्र वाले मित्र को विकास करने पर खर्च होता था। इत्र वाले मित्र के यहां बुलडोजल चलता है तो नोट के पहाड़ निकल पड़ते हैं। इससे यह साबित करता है कि सपा की सरकार में विकास के कार्य में डकैती डाली जाती थी। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में फ्री में उपचार, वैक्सीन, अन्न मिला। वैक्सीन सुरक्षा कवच है। पहली डोज सौ फीसदी ने ले ली है। दूसरी डोज सत्तर फीसदी ने ली है। चुनाव आते आते यह नव्वे फीसद हो जाएगी। डबल डोज वाले लोग वैक्सीन का विरोध करने वालों को जवाब देंगे। डबल इंजन की सरकार में अनाज का भी डबल डोज मिला है। पहले सब इनके इत्र वाले मित्र के यहां चला जाता था। बहन जी की सरकार होती तो हाथी का पेट तो कभी भरता ही नहीं है। समाजवादी नेता मिले, बोले आपके यहां विकास तो दिखाई देता है ये बुलडोजर का मतलब क्या है। मैंने कहा समझ जाओगे। भगवान कृष्ण ने क्या कहा था। एक में सस्त्र और दूसरा में शास्त्र। शास्त्र लोक कल्याण का मार्ग प्रशस्त करने के लिए, विकास का लिए और और ससत्र दुस्टों को उनके अंजाम तक पहुंचाने के लिए। विकास होगा कल्याण के लिए और बुलडोजर होगा माफिया की छाती पर चढ़ाने के लिए। उनकी अवैध कबाई ढहाने के लिए। सपा परेशान है। सपा को बुलडोजर से ज्यादा परेशानी हो गई है। समाजवादी नेता बताएं कि हमारे काम दिखाई दे रहे हैं। लेकिन आपने कोई विकास कराया, बोले, हमने कब्रिस्तान की बाउंड्रीबाल बनाई है। भाजपा की सरकार में सात सौ धाम, मंदिरों पर काम हुए हैं। अयोध्या को अत्याधुनिक नगरी के रूप में विकसित हो रही है। काशी को अत्याधुनिक बनाया जा रहा है। वृन्दावन, मथुरा, बरसाना, नंदगांव, गोर्वधन कैसे बच जाना है। येे विकास का काम चलना चाहिए न, बुलडोजर चलना चाहिए न ?



hindi news portal lucknow

कोविड-19 पाजिटिव हुए उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू, राज्यसभा सचिवालय में 271 लोग हो चुके हैं संक्रमित

23 Jan 2022 [ स.ऊ.संवाददाता ]

नई दिल्‍ली। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू (M Venkaiah Naidu) रविवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। नायडू दूसरी कोविड-19 से संक्रमित हुए हैं। उपराष्ट्रपति सचिवालय ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। समाचार एजेंसी एएनआइ की रिपोर्ट के मुताबिक संसद भवन परिसर में अब तक कुल 875 लोगों को कोविड-19 से संक्रमित पाया जा चुका है। यही नहीं राज्यसभा सचिवालय में भी अब तक 271 लोगों को कोविड-19 पाजिटिव पाया जा चुका है। उपराष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडु आज कोविड टेस्ट रिपोर्ट में पॉजिटिव पाए गए। वे आजकल हैदराबाद में हैं। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए उन्होंने स्वयं को एक सप्ताह के लिए अलग आइसोलेट रखने का निर्णय किया है।

उपराष्ट्रपति सचिवालय ने ट्वीट कर कहा- उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू की कोविड जांच रिपोर्ट पाजिटिव आई है। उपराष्ट्रपति आजकल हैदराबाद में हैं। कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए उन्होंने खुद को एक हफ्ते के लिए आइसोलेट रखने का फैसला किया है। उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने अपील की है कि हाल के दिनों में जो लोग उनके संपर्क में आए हैं वे भी अपनी कोविड-19 जांच करा लें और खुद को अलग कर लें।कोरोना के खिलाफ दुनिया का सबसे टीकाकरण अभियान अपने अंतिम चरण में पहुंच चुका है।

इससे पहले उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने रविवार को सुभाष चंद्र बोस को उनकी 125वीं जयंती पर श्रद्धाजंलि दी। एम. वेंकैया नायडू ने कहा कि नेताजी ने देश की मातृभूमि के लिए नि:स्वार्थ समर्पण का परिचय दिया। इसके साथ ही उन्‍होंने इंडिया गेट पर सुभाष चंद्र बोस की भव्य प्रतिमा स्थापित करने के केंद्र सरकार के फैसले की भी सराहना की।उपराष्ट्रपति सचिवालय ने नायडू के हवाले से ट्वीट किया- राष्ट्र स्वतंत्रता संग्राम में महत्वपूर्ण भूमिका के लिए सुभाष चंद्र बोस का ऋणी है। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने हैदराबाद में सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि भी अर्पित की। नायडू ने कहा कि सुभाष चंद्र बोस मातृभूमि के लिए नि:स्वार्थ समर्पण का परिचय दिया। पूरा देश आज पराक्रम दिवस पर महान नेता को याद करता है और उन्हें सलामी देता है।



hindi news portal lucknow

उत्तर प्रदेश में भाजपा की मुश्किलें नहीं हो रही कम, अब रीता बहुगुणा जोशी ने लखनऊ से बेटे के लिए मांगा टिकट

13 Jan 2022 [ स.ऊ.संवाददाता ]

रीता बहुगुणा अपने बेटे के लिए लखनऊ कैंट से टिकट मांगा है। हालांकि ऐसा नहीं है कि रीता बहुगुणा जोशी ही सिर्फ ऐसी नेता हैं जिन्होंने अपने बेटे के लिए टिकट मांगा है। बीजेपी में ऐसे कई नेताओं की कतार है जो अपने बेटे को सेट करने में लगे हुए हैं। बताया जा रहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने भी अपने बेटे के लिए टिकट मांगा था।उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले सत्तारूढ़ भाजपा के लिए मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। तीन वरिष्ठ मंत्री पहले ही इस्तीफा देखकर जा चुके हैं। जबकि कई विधायक लगातार पार्टी छोड़ रहे हैं। इन सबके बीच वरिष्ठ नेता रीता बहुगुणा जोशी ने भी पार्टी के सामने अपनी मांग रख दी है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक रीता बहुगुणा जोशी ने अपने बेटे के लिए टिकट मांगा है। रीता बहुगुणा अपने बेटे के लिए लखनऊ कैंट से टिकट मांगा है। हालांकि ऐसा नहीं है कि रीता बहुगुणा जोशी ही सिर्फ ऐसी नेता हैं जिन्होंने अपने बेटे के लिए टिकट मांगा है। बीजेपी में ऐसे कई नेताओं की कतार है जो अपने बेटे को सेट करने में लगे हुए हैं। बताया जा रहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने भी अपने बेटे के लिए टिकट मांगा था।



hindi news portal lucknow

PM Security Breach: सिद्धू ने उठाए सवाल, जब पीएम की सड़क मार्ग से जाने की नहीं थी योजना तो अचानक क्यों बदला प्लान

07 Jan 2022 [ स.ऊ.संवाददाता ]

चंडीगढ़। पीएम सुरक्षा में हुई चूक के मुद्दे पर पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि बड़ी चालाकी से मामले को डायवर्ट किया जा रहा है। कहा कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा क्या केवल पंजाब पुलिस तक सीमित है, क्या इसमें रा, आइबी की कोई भूमिका नहीं है। सिद्धू ने कहा कि जब यह प्लान ही नहीं था कि पीएम सड़क मार्ग से जाएंगे तो यह प्लान कब और कैसे बदला। चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत करते हुए नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि भाजपा पहली बार ऐसा नहीं कर रही। किसानों को एक साल तक आतंकवादी, खालिस्तानी का नाम दिया। देवता स्वरूप किसानों को आंदोलनजीवी तक कहा। पंजाब में 60 प्रतिशत किसान इनके विरोध में तो खड़े हो सकते हैं, लेकिन एक भी आदमी ऐसा नहीं होगा जिससे इनको जान का खतरा है। यह कहना है कि इनकी जान को खतरा है यह पंजाबियों पर कालिख पोतने का प्रयास है।

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि प्रधानमंत्री जी आप सिर्फ भारतीय जनता पार्टी के ही नहीं हैं। आप सबके प्रधानमंत्री है। आपकी जान की कीमत देश का बच्चा-बच्चा जानता है। आप ये कहकर कि यहां आपकी जान को खतरा था इस राज्य का, इसकी पंजाबियत का अपमान कर रहे हैं। नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि पंजाब में भाजपा का कोई जनाधार नहीं है। बस वह पंजाब को बदनाम कर दूसरे राज्यों में जैसे यूपी लड़ना चाहते हैं। जहां भी भाजपा ऐसे स्वांग रचाती है तो वहां मुद्दे पीछे हो जाते हैं। पिछले दो दिन से ऐसा ही अब पंजाब में हो रहा है। क्या कोई बेरोजगारी, आने वाली पीढ़ी के भविष्य पर कोई बात कर रहा है। सिद्धू ने कहा कि भाजपा ने ऐसे कुछ तोते रखे हुए हैं जो इनकी भाषा बोलते रहते हैं। इनमें पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी हैं। भाजपा की फिरोजपुर रैली में 70 हजार कुर्सी लगाई गई थी, लेकिन पंडाल खाली था, इसलिए सुरक्षा को बहाना बनाया जा रहा है।नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि पंजाब देश की ढाल है, इसलिए उस पर तोहमतें लगाना बंद करो। भाजपा पंजाबियों को बदनाम करने का प्रयास कर रही है, क्योंकि वह जानती है कि पंजाब में उनका कोई साथ नहीं देगा, इसीलिए पंजाब में राष्ट्रपति लगाने की बातें कर रहे हैं। इन्हें पता है कि इसी तरह से हम दिल्ली से पंजाब पर अपना शासन चला सकते हैं। सिद्धू ने कहा कि इस तरह की हरकतें पंजाब के चुनाव के समय ही क्यों होती हैं। सिद्धू ने कहा कि पीएम की सुरक्षा में कितनी एजेंसियां जुड़ी हुई हैं और वह किसी की नहीं सुनते। क्या उन्हें निर्देश देने की जरूरत है।



hindi news portal lucknow

कांग्रेस की महंगाई हटाओ रैली में राहुल गांधी बोले- मैं हिंदू हूं, हिंदुत्ववादी नहीं, महात्मा गांधी भी हिंदू थे

12 Dec 2021 [ स.ऊ.संवाददाता ]

जयपुर। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को राजस्थान के जयपुर में महंगाई हटाओ रैली में कहा कि भारत हिंदुओं का देश है, हिंदुत्ववादियों का नहीं, जो किसी भी हालत में सत्ता में रहना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि अगर देश में महंगाई है और दुख है तो यह हिंदुत्ववादियों ने किया है। राहुल गांधी ने यहां बढ़ती महंगाई के खिलाफ एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि यह हिंदुओं का देश है, हिंदुत्ववादियों का नहीं। अगर देश में महंगाई है और पीड़ा है, तो यह हिंदुत्ववादियों द्वारा किया गया है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके दोस्तों ने एनडीए सरकार के दौरान देश को "बर्बाद" किया है। राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि मोदी और उनके तीन-चार उद्योगपति मित्रों ने सात साल में देश को बर्बाद कर दिया। उन्होंने कहा कि मैं हिंदू हूं और हिंदुत्ववादी नहीं हूं। राहुल ने कहा कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश और लद्दाख में हमारी जमीन ली है, मोदी कहते हैं कि कुछ नहीं हुआ। 700 किसान शहीद हुए, मोदी कहते हैं कि कुछ नहीं हुआ। बहुत कुछ हुआ है, बहुत लोगों की जान गई है और अब देश को आगे बढ़ना पड़ेगा।राजस्थान के जयपुर में कांग्रेस की महंगाई हटाओ रैली में रविवार को राहुल गांधी ने कहा कि हिंदुत्ववादी अपना पूरा जीवन सत्ता की तलाश में लगा देते हैं। उन्हें सत्ता के अलावा कुछ नहीं चाहिए और इसके लिए वे कुछ भी कर सकते हैं। वे 'सत्याग्रह' नहीं 'सत्ताग्रह' के मार्ग पर चलते हैं। यह देश हिंदुओं का है, हिंदुत्ववादियों का नहीं। उनके मुताबिक, भारतीय राजनीति में 'हिंदू' और 'हिंदुत्ववादी' के बीच प्रतिस्पर्धा है। दोनों शब्दों के अलग-अलग अर्थ हैं। मैं हिंदू हूं, लेकिन हिंदुत्ववादी नहीं। महात्मा गांधी हिंदू थे लेकिन गोडसे हिंदुत्ववादी थे। ये देश हिंदूओं का देश है हिंदुत्ववादियों का नहीं है और आज इस देश में महंगाई, दर्द, दुख है तो ये काम हिंदुत्ववादियों ने किया है। हिंदुत्ववादियों को किसी भी हालत में सत्ता चाहिए। महात्मा गांधी ने पूरी जिंदगी सच को ढूंढने बीता दी और अंत में एक हिंदुत्ववादी ने उनकी छाती में तीन गोली मारी। हिंदुत्ववादी अपनी पूरी जिंदगी सत्ता को खोजने में लगा देता है उसको सत्य से कुछ लेना देना नहीं है उसे सिर्फ सत्ता चाहिए और उसके लिए वो कुछ भी कर देगा।कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए रविवार को आरोप लगाया कि भाजपा सरकार 70 साल में उनकी पार्टी ने जो कुछ भी बनाया है, वह अपने उद्योगपति मित्रों को बेचना चाहती है। उन्होंने कहा कि जब चुनाव आते हैं तो भाजपा नेता चीन या अन्य देशों, जातिवाद, सांप्रदायिकता की बात करते हैं, लेकिन लोगों के संघर्षों के बारे में नहीं और पूछा कि मोदी सरकार ने अपने सात साल के शासन में क्या किया है। महंगाई के खिलाफ राष्ट्रीय स्तर की रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को जवाबदेह बनाना आपकी जिम्मेदारी है, यह पूछना आपकी जिम्मेदारी है कि इतनी महंगाई क्यों है।आरोप लगाया कि सरकार देश के लोगों और किसानों की भलाई के लिए काम करने के बजाय चुनिंदा उद्योगपति मित्रों के लिए काम कर रही है। सरकार दो प्रकार की होती है। पहले प्रकार की सरकार का लक्ष्य जनता के प्रति सेवा, समर्पण और सच्चाई है और एक ऐसी सरकार है जिसका लक्ष्य झूठ, लालच और लूट है। वर्तमान केंद्र सरकार का लक्ष्य झूठ लालच और लूट है। केंद्र की मोदी सरकार बार-बार सवाल करती है कि कांग्रेस ने 70 वर्षों में क्या किया है। मैं कहता हूं कि 70 साल की बात छोड़ो। हमें बताएं कि आपने सात साल में क्या किया है? उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने 70 साल में जो कुछ भी बनाया, उसे केंद्र सरकार उद्योगपति मित्रों को बेचना चाहती है। उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए गांधी ने आरोप लगाया कि योगी आदित्यनाथ सरकार विज्ञापनों पर करोड़ों रुपये खर्च कर रही है लेकिन किसानों को खाद दिलाने में विफल रही है।प्रियंका गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार हजारों करोड़ रुपये विज्ञापन में खर्च कर रही है, लेकिन वही सरकार किसानों को खाद नहीं दिला पा रही। मैं ऐसे परिवारों से मिल कर आई हूं जिसके मुखिया ने खाद लेने के लिए लाइन में खड़े-खड़े दम तोड़ दिया। उनके मुताबिक, केंद्र में आज की सरकार केवल झूठ की है। यह सरकार कुछ उद्योगपतियों के लिए काम कर रही है। जितना पैसा वे विज्ञापनों पर खर्च करते हैं, वह किसानों को क्यों नहीं देते। आप आज यहां हैं, क्योंकि एक एलपीजी सिलेंडर की कीमत लगभग 1000 रुपये है, सरसों के तेल की कीमत 200 रुपये प्रति लीटर है, पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ रही हैं, और आम आदमी की परेशानियों को कोई नहीं सुन रहा है। इससे पहले राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने जयपुर एयरपोर्ट पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी नेता राहुल गांधी की अगवानी की।सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि आज राजस्थान के लिए एक ऐतिहासिक दिन है, जब केंद्र सरकार की गलत नीतियों के कारण बढ़ती अप्रत्याशित महंगाई के विरोध में जयपुर में राष्ट्रीय महारैली का आयोजन किया जा रहा है जिसमें शीर्ष कांग्रेस नेतृत्व समेत पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता शामिल हो रहे हैं। इस महारैली से देश भर में एक संदेश जाएगा कि अब केंद्र की भाजपा सरकार की गलत नीतियों के व्यापक रूप से विरोध का वक्त आ गया है। पूरे देश में इस रैली से उठी जनजागरण की लौ, एक मशाल बनकर एनडीए सरकार के पतन का मार्ग प्रशस्त करेगी। इस महारैली में शामिल होने प्रदेशभर से आए और अन्य राज्यों से आए सभी लोगों को मैं बधाई देता हूं कि वे केंद्र सरकार को संदेश देने के लिए पहुंचे हैं। मैं राजस्थान की धरा पर पधार रहीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी तथा प्रियंका गांधी का स्वागत करता हूं। कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेताओं का भी मैं स्वागत करता हूं, जो इस महत्वपूर्ण अवसर पर सहभागी बने हैं।



hindi news portal lucknow

बसपा मुखिया मायावती का भाजपा पर बड़ा आरोप, बोलीं-अल्पसंख्यकों के खिलाफ दर्ज किए जा रहे हैं फर्जी केस

30 Nov 2021 [ स.ऊ.संवाददाता ]

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के साथ ही कांग्रेस पर गंभीर आरोप जड़ा है। मायावती ने लखनऊ में पार्टी के कार्यालय में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर अपनी पार्टी की समीक्षा के बाद मीडिया ब्रीफिंग की।

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में मुसलमानों को फर्जी केस में फंसाया जा रहा है। भाजपा तो मुसलमानों के साथ सौतेला व्यवहार करती है। प्रदेश का मुसलमान भाजपा सरकार से काफी दुखी भी हैं। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक समाज पर फर्जी केस लिखे जा रहे है। अब तो नए-नए नियम बनाकर इनको परेशान किया जा रहा है। बसपा मुखिया मायावती ने कहा कि प्रदेश के लोगों के साथ भाजपा का सौतेला रवैया साफ नजर आता है। प्रदेश में बसपा की सरकार बनने के बाद हम अपनी सरकार में सभी का ध्यान रखेंगे। हमारी सरकार के कार्यकाल में मुस्लिम के साथ जाट के सभी हित व कल्याण का ध्यान रखा जाएगा। केन्द्र सरकार जातिगण मतगणना नहीं करा रही है।मायावती ने इस दौरान कांग्रेस को भी निशाने पर रखा। मायावती ने कहा कि केन्द्र में शासन के दौरान कांग्रेस सरकार ने अपने समय में आरक्षण लागू नहीं किया था। आरक्षण को लेकर मायावती ने कांग्रेस पर वार किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने मंडल कमीशन की रिपोर्ट लागू नहीं की थी। देश में एससी व एसटी को अभी जो भी सुविधाएं मिलीं हैं वो सब बाबा साहेब की देन हैं।मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर आज चुनावी तैयारियों की समीक्षा करूंगी। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के नेता तथा कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर काम कर रहे हैं। हमने बीते दिनों में सुरक्षित विधानसभा सीटों के लिए बैठक की थी। हमने आज ओबीसी समाज के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है। इन सभी को सुरक्षित सीटों पर अधिक से अधिक लोगों को बसपा से जोडऩे की जिम्मेदारी दी गई है।



hindi news portal lucknow

प्रदूषण से दिल्ली में लॉकडाउन जैसे प्रतिबंध, सीएम केजरीवाल ने आपात बैठक में लिये कड़े निर्णय

13 Nov 2021 [ स.ऊ.संवाददाता ]

नई दिल्ली। दिल्ली की आबोहवा बिगड़ने के साथ ही सीएम केजरीवाल एक्शन मोड में आ गए हैं। इमरजेंसी मीटिंग के बाद सीएम ने राजधानी दिल्ली में फिर से कई पाबंदियों को यहां लागू कर दिया है। इसमें एक हफ्ते के लिए सभी सरकारी ऑफिस के सभी कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम के लिए भेजा जाना प्रमुख है। वहीं, 14 से 17 नवंबर तक निर्माण कार्य पर भी रोक रहेगी।

अरविंद केजरीवाल ने बताया कि प्राइवेट कंपनियों के लिए भी एडवाइजरी जारी की गई है कि वह ज्यादा-से-ज्यादा कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम भेजने का सुझाव दे सकते हैं। इससे कम से कम लोग ही बाहर निकलेंगे, ताकि सड़कों पर भीड़ कम हो सके।

वहीं सोमवार से एक हफ्ते के लिए स्कूल को बंद कर दिया है। हालांकि, आनलाइन क्लास पहले की तरह चलती रहेंगी। स्कूल बंद होने से बच्चों की पढ़ाई किसी भी हाल में बाधित नहीं होगी इस बात का पूरा ख्याल रखने के लिए कहा गया है। सीएम केजरीवाल ने यह भी कहा कि बच्चों के स्कूल को बंद करने का कारण यही है कि वह कम से कम दूषित हवा के संपर्क में आएं। वह वायु प्रदूषण के बच कर रहें।

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के कारण खराब होते हालात के कारण सुबह सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती दिखाई थी जिसका असर शाम होते दिखने लगा। दिल्ली सरकार ने कोर्ट की टिप्पणी के बाद तुरंत इमरजेंसी मीटिंग बुलाई जिसमें हालात को सामन्य करने के लिए सख्त रुख अपनाने का आदेश दिया गया है।

दिल्ली में दीपावली के बाद वायु प्रदूषण बढ़ता ही जा रहा था जिसके कारण यहां एक्यूआइ लगभग 500 के आसपास बना हुआ है। स्थिति खराब होने के कारण यहां के हालात को हेल्थ इमरजेंसी जैसी संज्ञा दी गई। प्रदूषण को लेकर सचेत करने वाली संस्था सफर ने बताया कि इस बार दिल्ली की स्थिति ज्यादा खराब है क्योंकि यहां की हवा लॉक हो गई है। हवा में प्रदूषण के कण स्थिर होकर जमीन के नजदीक बने हुए हैं। वहीं पराली के मामले भी पड़ोसी राज्य में लगातार बढ़ने का असर यहां की हवा में देखा जा रहा है। कुल मिलाकर दिल्ली एक बार फिर गैस चैंबर जैसा बन चुका है। करोड़ों लोगों साफ हवा के मोहताज हो गए हैं।



hindi news portal lucknow

भारत को 'विश्व गुरु' बनाना मोदी का एक मात्र लक्ष्य, प्रधानमंत्री के यूएनजीए संबोधन पर बोले नड्डा

25 Sep 2021 [ स.ऊ.संवाददाता ]

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शनिवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन को एक वास्तविक राजनेता का उद्बोधन करार दिया और कहा कि यह 130 करोड़ देशवासियों को गौरवान्वित करने वाला और पूरी दुनिया में भारत की 'वैचारिक ध्वज पताका' लहराने वाला है। उन्होंने कहा कि भारत को फिर से 'विश्व गुरु' बनाना, पीएम मोदी का एक मात्र लक्ष्य है। प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद नड्डा ने एक बयान में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने हर मुद्दे पर जिस बेबाकी के साथ भारत के दृष्टिकोण को रखा और वैश्विक मुद्दों पर दुनिया का ध्यान आकृष्ट कराया, उसकी जितनी भी सराहना की जाए कम है।नड्डा ने कहा कि कोविड प्रबंधन और कोविडरोधी टीकाकरण से लेकर आतंकवाद और समुद्री सीमा तक के मुद्दों पर प्रधानमंत्री ने जिस तरह से वैश्विक समुदाय को एक साथ आने के लिए प्रेरित किया है, वह काबिले-तारीफ है।उन्होंने कहा कि कोविड के कारण जान गंवाने वाले दुनिया के सभी लोगों के परिजनों के लिए जिस तरह उन्होंने संवेदना प्रकट की, वह दिल को छू लेने वाली थी

नड्डा ने कहा कि पीएम मोदी ने भारत के लोकतंत्र की यात्रा के बारे में बताया और पंडित दीनदयाल उपाध्याय के 'एकात्म मानववाद' और 'अंत्योदय' के सिद्धांत से विश्व समुदाय का परिचय भी कराया।नड्डा ने कहा कि आतंकवाद को लेकर जिस तरह भारत ने दुनिया को आईना दिखाया और इसे राजनीतिक उपकरण के रूप में इस्तेमाल करने वाले देशों को चेतावनी दी, वह आतंक को पालने वाले देशों के लिए भारत का एक कड़ा संदेश है।नड्डा ने यह भी कहा कि साथ ही पहली बार भारत ने संयुक्त राष्ट्र में समुद्री सुरक्षा पर भी आवाज बुलंद की और कोरोना की उत्पत्ति और व्यवसाय की सुगमता पर संयुक्त राष्ट्र के ढुलमुल रवैये को लेकर भी विश्व निकाय को नसीहत दी।उन्होंने कहा कि आज पूरी दुनिया जिस गंभीरता से प्रधानमंत्री को सुनती है और उनके सुझावों पर अमल करती है, उससे यह सिद्ध होता है कि नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत एक प्रमुख शक्ति के रूप में स्थापित हुआ है। हमारे पीएम का एक ही लक्ष्य है और वह है भारत को विश्वगुरु के पद पर पुन: प्रतिष्ठित करना।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट करके कहा कि आज यूएनजीए में पीएम नरेंद्र मोदी ने शानदार भाषण दिया। उनका भाषण भारत के 130 करोड़ लोगों की भावना को समाहित करता है। उन्होंने सफलतापूर्वक दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की आकांक्षाओं और एक समृद्ध भारत और एक सुरक्षित ग्रह के निर्माण के हमारे दृढ़ संकल्प पर प्रकाश डाला।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपनी अमेरिका यात्रा के दौरान दुनिया के कई नेताओं और कारपोरेट जगत के बड़े लोगों के साथ मुलाकातों का जिक्र करते हुए भाजपा ने शनिवार को कहा कि उनके नेतृत्व में भारत अंतरराष्ट्रीय कूटनीति में अग्रणी भूमिका निभा रहा है।पार्टी प्रवक्ता और राज्यसभा सदस्य सुधांशु त्रिवेदी ने कहा है कि मोदी के सत्ता में आने के बाद से पिछले सात वर्षो में अमेरिका के साथ भारत के संबंध काफी मजबूत हुए हैं। त्रिवेदी ने कहा कि मोदी भारत के प्रधानमंत्री के रूप में तीसरे अमेरिकी राष्ट्रपति से मिले हैं। पिछले सात साल में अमेरिका में चाहे जिस पार्टी की सरकार बनी हो लेकिन भारत-अमेरिका संबंध समान रूप से मजबूत रहे हैं।



hindi news portal lucknow

पूर्व कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव ने पार्टी से दिया इस्तीफा, पहले ही बदल दिया था ट्विटर प्रोफाइल

16 Aug 2021 [ स.ऊ.संवाददाता ]

नई दिल्ली। महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव (Sushmita Dev) ने सोमवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। इससे पहले उन्होंने अपना ट्विटर प्रोफाइल बदल दिया था। दरअसल उन्होंने प्रोफाइल पर अपने पद के पहले 'पूर्व' लगा दिया था। इसके बाद से ही अटकलें लगनी शुरू हो गई थीं। इसके बाद पार्टी की नेता सुष्मिता देव का इस्तीफा पत्र सामने आ गया।

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, 'मैंने सुष्मिता देव से बात करने की कोशिश की लेकिन उनका फोन ऑफ था। उनका कोई पत्र आज तक सोनिया गांधी को नहीं मिला है। सुष्मिता देव अपने विवेक से और सोच समझकर निर्णय करेंगी। जब तक उनसे पूरी बात नहीं हो जाती इससे ज़्यादा कहना अनुचित होगा।'असम के भाजपा महासचिव व सांसद राजदीप राय ने कहा, 'फिलहाल कांग्रेस की पूर्व नेता सुष्मिता देव भाजपा में शामिल नहीं हो रहीं हैं। राज्य के नेताओं से जहां तक मुझे पता चला है वे पार्टी के किसी वरिष्ठ नेता के संपर्क में नहीं हैं। कांग्रेस से इस्तीफा उनका व्यक्तिगत फैसला है।'वहीं कांग्रेस नेता रिपुन बोरा ने कहा,'सुष्मिता देव पार्टी की समर्पित नेता थीं, कभी नहीं सोचा था कि वे ऐसा निर्णय लेंगी। हम परिवार की तरह हैं। यदि वे पार्टी के साथ कुछ नाराजगी थी तो चर्चा करनी चाहिए थी। मैं उनसे इस फैसले पर दोबारा सोचने और इस्तीफा वापस लेने का आग्रह करता हूं।'सुष्मिता देव के इस्तीफे पर कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रया दी है। उन्होंने लिखा, 'हमारी पार्टी की सदस्यता से सुष्मिता देव ने इस्तीफा दे दिया है। युवा नेताओं के पार्टी छोड़ कर जाने के बीच पार्टी को मजबूत बनाने के प्रयासों लिए आरोप हम पुराने बुजुर्गों पर लग रहे हैं ।'

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे गए इस्तीफे में उन्होंने तीन दशक लंबे अपने कांग्रेस करियर का जिक्र किया है। साथ ही उन्होंने पार्टी के सभी नेताओं, पार्टी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद अदा किया है। सुष्मिता ने अपने इस्तीफा पत्र में कांग्रेस पार्टी के साथ बिताए 30 सालों को यादगार बताया है और लिखा है कि अब वे पार्टी की सदस्यता छोड़ रहीं है। इसके बाद वे अपना समय जनकल्याण के लिए देंगी। असम बंगाल के नेता संतोष मोहन देब की बेटी सुष्मिता देव को असम की सिल्चर विधानसभा सीट से सांसद चुना गया था। उल्लेखनीय है कि इस साल हुए असम विधानसभा चुनाव के दौरान ही सुष्मिता देव की नाराजगी की बात सामने आई थी। उसी वक्त सुष्मिता देव ने पार्टी से इस्तीफा देने की धमकी दी थी। बाद में उन्होंने इसे अफवाह बताया था और कहा था कि वह कांग्रेस पार्टी के साथ हैं।



hindi news portal lucknow

नेपाल ने कहा- भारत हमारा खास पड़ोसी देश, चीन कभी उसकी जगह नहीं ले सकता

15 Aug 2021 [ स.ऊ.संवाददाता ]

नेपाल में सत्ता परिवर्तन का खेल बीते महीने देखने को मिला और चीन के सरपरस्त केपी शर्मा ओली के हाथ से सत्ता अब शेर बहादुर देउबा के हाथों में आ गई। ओली के दौर में भारत के साथ नेपाल के संबंधों में एक बर्फ सी जम गई थी। लेकिन अब नेपाली कांग्रेस की तरफ से भारत को एक खास पड़ोसी देश बताया गया है। नेपाल कांग्रेस ने भारत और चीन को लेकर बहुत बड़ा बयान दिया है। देउबा ने कहा है कि भारत हमारा खास पड़ोसी देश है और चीन कभी भी भारत की जगह नहीं ले सकता।

नेपाल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शमशेर सिंह राणा ने कहा कि नेपाल पड़ोसी पहले के सिद्धांत पर काम करता रहेगा। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट मुताबिक उन्होंने कहा है, 'नेपाल को बीजिंग की ज़रूरत है और चीन हमारा अच्छा पड़ोसी रहा है लेकिन भारत स्पेशल है। चीन, भारत की जगह नहीं ले सकता।' उन्होंने आगे कहा कि पीएम देउबा को मसलों को बेहतर तरीके से हल करना होगा क्योंकि वो एक नाजुक गठबंधन सरकार का नेतृत्व कर रहे हैं।



12345678910...