खेल

hindi news portal lucknow

16 साल की शेफाली वर्मा ने मचाया टी20 विश्व कप में धमाल, स्मृति मंधाना ने की तारीफ

26 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

मेलबर्न। भारतीय महिला क्रिकेट टीम में शीर्ष क्रम में अहम भूमिका निभाने वाली सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना को खुशी है कि किशोरी शेफाली वर्मा महिला टी20 विश्व कप में अपने प्रदर्शन से सभी का ध्यान खींच रही है और उनका मानना है कि इससे टीम संतुलित बन गयी है। पिछले दो-तीन वर्षों में भारतीय टीम का अहम अंग रही 23 वर्षीय मंधाना ने कहा कि शेफाली ने दिखा दिया कि वह उनकी तरह खेलने में सक्षम है। मंधाना ने कहा, ‘‘पिछले दो तीन वर्षों में मैंने ढेर सारे रन बनाये विशेषकर पावरप्ले में लेकिन अब शेफाली भी उसी तरह से रन बना रही है जैसे मैं बनाती थी। इससे टीम अधिक संतुलित बन गयी है। वह जिस तरह से बल्लेबाजी करती है वैसे में उसके साथ बल्लेबाजी करना आसान है। ’’

सोलह वर्षीय शेफाली ने विश्व कप में अब तक दो मैचों में 68 रन बनाये हैं जिसमें पांच छक्के और सात चौके शामिल है। उनका स्ट्राइक रेट 212 है। उन्हें बांग्लादेश के खिलाफ मैच में 39 रन बनाने के लिये मैच की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया था। मंधाना बुखार के कारण इस मैच में नहीं खेल पायी थी।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस के प्रसार के कारण टेबल टेनिस विश्व चैम्पियनशिप टला

मंधाना ने कहा, ‘‘मैं पावरप्ले में अहम भूमिका निभाती रही हूं लेकिन अब शेफाली भी इन ओवरों में तेजी से रन बना रही है। उसने बड़ा प्रभाव छोड़ा है और टीम अधिक संतुलित बन गयी है। ’’न्यूजीलैंड के खिलाफ गुरुवार को होने वाले मैच के बारे में मंधाना ने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि हम कुल स्कोर के बारे में सोचकर मैच में उतरेंगे लेकिन हम उस तरह से खेलना जारी रखेंगे जो कि हमारे बल्लेबाजों के अनुकूल है। ’’

न्यूजीलैंड की तेज गेंदबाज ली ताहुहु ने कहा कि वह शेफाली को गेंदबाजी करने को लेकर उत्साहित हैं। उन्होंने कहा, ‘‘निजी तौर पर मुझे वर्मा का सामना करने के बारे में सोचना पसंद है। इससे मैं अधिक उत्साहित हो जाती हूं और मैं वास्तव में उसका सामना करने के लिये तैयार हूं।मैं पिछले साल भारत में टी20 चैलेंज में उसके साथ खेली थी और जानती हूं कि वह पीछे हटने वालों में नहीं है। ’’



hindi news portal lucknow

वेलिंगटन टेस्ट: न्यूज़ीलैंड ने भारत को 10 विकेट से हराया

24 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

न्यूज़ीलैंड ने वेलिंगटन टेस्ट 10 विकेट से जीत लिया है। इसके साथ ही न्यूज़ीलैंड ने 2 टेस्ट की सीरीज़ में 1-0 की बढ़त बना ली है। मैच के चौथे दिन भारत की दूसरी पारी 191 रन पर सिमट गई। इस तरह भारत ने न्यूज़ीलैंड के सामने 9 रन का लक्ष्य रखा। न्यूज़ीलैंड ने बिना किसी नुकसान के ये मामूली लक्ष्य हासिल कर लिया। ये न्यूज़ीलैंड की 100वीं टेस्ट जीत है।



hindi news portal lucknow

कोहली पर अंकुश लगाने के लिए शार्ट गेंदबाजी की रणनीति अपनाना चाहते थे: बोल्ट

23 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

वेलिंगटन। न्यूजीलैंड के बायें हाथ के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने रविवार को कहा कि वह विराट कोहली को लय में नहीं आने देना चाहते थे और इसलिए उन्होंने उनके खिलाफ बाउंसर का इस्तेमाल किया जिससे भारतीय कप्तान अंतत: आउट किया। कोहली 43 गेंद में 19 रन की पारी खेलने के बाद बोल्ट की गेंद को हुक करने की कोशिश में विकेटकीपर बीजे वाटलिंग को कैच दे बैठे। भारत ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक दूसरी पारी चार विकेट पर 144 रन बनाए और टीम अब भी न्यूजीलैंड के पहली पारी के स्कोर से 39 रन पीछे है। बोल्ट ने तीसरे दिन के खेल के बाद कोहली के खिलाफ रणनीति का खुलासा करते हुए कहा, ‘‘उनकी टीम के कुछ अन्य खिलाड़ियों की तरह विराट को भी पसंद है कि गेंद बल्ले पर आए।निश्चित तौर पर जब हम चूक करते हैं तो वह बाउंड्री जड़ देता है। हमारे नजरिये से हम इस पर रोक लगाने का प्रयास कर रहे थे और निजी तौर पर मेरे लिए क्रीज का इस्तेमाल करना और शार्ट गेंद फेंकना अच्छी योजना थी जिससे कि उनकी रन गति पर लगाम लगाई जा सके।’’ बोल्ट ने साथी तेज गेंदबाज काइल जेमीसन को भी श्रेय दिया जिन्होंने राउंड द विकेट गेंदबाजी करते हुए शार्ट गेंदों से कोहली के बल्ले को खामोश रखा। बोल्ट ने कहा कि आजकल लाल गेंद काफी स्विंग नहीं करती और इसलिए कोण बनाने के लिए उन्हें रणनीति बदलनी पड़ी।उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि फायदे की स्थिति यह रही कि मैं बेसिन रिजर्व पर काफी क्रिकेट खेला हूं। आम तौर पर हवा से निपटना सबसे मुश्किल होता है। लेकिन अगर मैं कोण में बदलाव करूंगा और बल्लेबाज को जो मैं कर रहा हूं उसके साथ सामंजस्य नहीं बैठाने दूं तो इससे लय बिगड़ती है। ’’ तीस साल का यह तेज गेंदबाज विकेट से खुश है और उन्होंने कहा कि अच्छी लाइन और लेंथ से गेंदबाजी करके वे न्यूजीलैंड को अच्छी स्थिति में पहुंचाने में सफल रहे।



hindi news portal lucknow

ऑस्ट्रेलिया पर मिली जीत से भारत का आत्मविश्वास काफी बढेगा: मिताली

22 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

सिडनी। भारत की स्टार बल्लेबाज मिताली राज ने स्पिनर पूनम यादव के शानदार प्रदर्शन की तारीफ करते हुए कहा कि पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया जैसी मजबूत टीम केा हराने से टी20 विश्व कप में भारत का आत्मविश्वास काफी बढेगा। पूनम के चार विकेट की मदद से भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पहले मैच में 17 रन से हराया।मिताली ने आईसीसी की एक विज्ञप्ति में कहा ,‘‘हर कोई आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी की गहराई की बात कर रहा है लेकिन इसके बावजूद वे 132 रन का लक्ष्य हासिल नहीं कर सके।’’उन्होंने कहा ,‘‘भारत का आत्मविश्वास इस जीत से काफी बढेगा लेकिन अभी भी विश्व कप काफी खुला है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के मैच ने साबित कर दिया कि टूर्नामेंट कितना प्रतिस्पर्धी होगा। रैंकिंग का कोई असर नहीं पड़ता।’’मिताली ने कहा ,‘‘ इस जीत से साबित हो गया कि हर टीम के लिये मौका है। यह मैच विश्व कप से लगी अपेक्षाओं पर एकदम खरा उतरा है।’’भारत की पूर्व टेस्ट और वनडे कप्तान ने कहा ,‘‘पूनम काफी समय से भारत की प्रमुख स्पिनर रही है और एक बार फिर उसकी शैली काम कर गई। उसकी गेंदबाजी ने मैच की तस्वीर पूरी बदल दी।’’



hindi news portal lucknow

सचिन तेंदुलकर ने भारतीय क्रिकेट फैंस को समर्पित किया ऐतिहासिक अवॉर्ड, ट्विटर पर किया ऐलान

18 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

नई दिल्ली। Sachin Tendulkar Laureus Sporting Moment award: भारतीय क्रिकेट टीम के महान बल्लेबाज और क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने लॉरियस सपोर्टिंग मोमेंट अवॉर्ड अपने नाम किया है। 20 साल में पहली बार किसी को ये अवॉर्ड मिला है। सचिन तेंदुलकर को ये अवॉर्ड वर्ल्ड कप 2011 के फाइनल में मिली जीत के बाद टीम के खिलाड़ियों ने उनको कंधों पर उठाया था। इसी क्षण के लिए सचिन तेंदुलकर को इस सम्मान से नवाजा गया है। वहीं, सचिन तेंदुलकर ने इस ऐतिहासिक अवॉर्ड को देश और भारतीय क्रिकेट टीम के फैंस को समर्पित कर दिया है।

सोमवार को बर्लिन में आयोजित हुए इस सम्मान समारोह में लॉरियस अवॉर्ड हासिल करने वाले पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने मंगलवार को अपने ट्विटर पर इस बात का ऐलान किया है कि वे ये अवॉर्ड भारत के नाम समर्पित करना चाहते हैं। सचिन तेंदुलकर ने लिखा है, "इतना प्यार और समर्थन देने के लिए आप सभी का शुक्रिया! मैं इस लॉरियस अवॉर्ड को भारत, अपनी टीम के साथी खिलाड़ी, फैंस और भारत और दुनियाभर के भारतीय क्रिकेट टीम के शुभचिंतकों को समर्पित करना चाहता हैं, जो हमेशा भारतीय क्रिकेट का समर्थन करते हैं।"

दुनिया का प्रतिष्ठित अवॉर्ड सचिन तेंदुलकर को वानखेड़े स्टेडियम में वर्ल्ड कप 2011 का फाइनल जीतने के बाद उनके साथी खिलाड़ियों द्वारा उनको कंधों पर उठाया गया था। इस तस्वीर को शीर्षक मिला, 'Carried On the Shoulders Of A Nation' इस कैप्शन के साथ सचिन तेंदुलकर के पक्ष में काफी वोट पड़े और पिछले 20 साल के लिए महानत लॉरियस सपोर्टिंग मोमेंट का अवॉर्ड मिला। वहीं, सचिन तेंदुलकर ने ये अवॉर्ड भारतीय क्रिकेट के फैंस के नाम समर्पित करके देशवासियों का दिल जीतने का काम किया है।



hindi news portal lucknow

खराब फार्म के बारे में सोचने का कोई मतलब नहीं: अग्रवाल

16 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

हैमिल्टन। भारत के मयंक अग्रवाल ने रविवार को यहां ड्रा हुए अभ्यास मैच में मनोबल बढ़ाने वाली 81 रन की पारी खेली जिससे न्यूजीलैंड दौरे पर उनकी खराब फार्म का अंत हुआ जिसके बारे में वह सोचना नहीं चाहते। अभ्यास मैच में इस पारी से पहले अग्रवाल ने 8, 32, 29, 37, 24, 0, 0, 32, 3, 1, 1 रन की पारी खेली थी जिससे न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला से पहले उनके आत्मविश्वास को लेकर सवाल उठाये जा रहे थे। अग्रवाल ने पत्रकारों से कहा, ‘‘यहां खेलना थोड़ा अलग है लेकिन मैं उन सब चीजों को पीछे छोड़ देना चाहता हूं। जो हो चुका है, वो पुराना हो चुका है। हां, इस अभ्यास मैच की दूसरी पारी में मैंने 81 रन बनाये और मैं इस आत्मविश्वास को टेस्ट मैच में भी जारी रखना चाहता हूं। ’’वह हालांकि पुरानी बातों को याद करने में भरोसा नहीं रखते और उन्होंने बस इतना कहा कि उन्होंने बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ के साथ सत्र में तकनीकी खामियों को दूर करने की बातें कीं।अग्रवाल ने कहा, ‘‘विक्रम सर, और मैंने बैठकर इस चीज के बारे में बात की कि मुझे कहां सुधार करने की जरूरत है। हां, हमने इस पर काम किया। पहली पारी में जब मैं आउट हुआ तो मैं नेट में गया और काफी ड्रिल्स की। मैं खुश हूं कि जिस चीज पर काम किया गया, वह अब अच्छा हो रहा है। ’’जब इसके बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इनमें से एक मुद्दा ‘क्लोज्ड स्टांस’ का था लेकिन वह इसके बारे में ज्यादा चर्चा नहीं करना चाहते।उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मैं इसके बारे में ज्यादा चर्चा नहीं करना चाहता। हां, हमने काम किया है और हम आगे बढ़ रहे हैं और मैं इसे ऐसे ही छोड़ना चाहता हूं। मैं खुश हूं कि हम इसे सही करने में सफल रहे। ’’अग्रवाल ने कहा, ‘‘जो हो चुका है, उसके बारे में सोचने का कोई मतलब नहीं। निश्चित रूप से मैं वो वापस नहीं ला सकता। मैं अब खुद से कहना चाहूंगा कि हां मैंने यहां नाबाद 81 रन बनाये और मैं इसे टेस्ट मैच में भी जारी रखना चाहूंगा। ’’



hindi news portal lucknow

न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों को बेहतर बनाने में IPL का है बहुत बड़ा योगदान: गाविन लार्सन

15 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

हैमिल्टन। पूर्व तेज गेंदबाज और मौजूदा राष्ट्रीय चयनकर्ता गाविन लार्सन को लगता है कि आईपीएल के लिये अलग विंडो बनाने के फैसले ने न्यूजीलैंड क्रिकेटरों को बेहतर बनाने में बड़ी भूमिका अदा की है। लार्सन और कोच गैरी स्टीड (मुख्य चयनकर्ता भी) के दो सदस्यीय पैनल पर देश के खिलाड़ियों के विकास के देखरेख की जिम्मेदारी है। साथ ही क्रिकेट बोर्ड ने भी सुनिश्चित किया है कि आईपीएल इस योजना का हिस्सा हो। न्यूजीलैंड की वनडे टीम में 90 के दशक में नियमित रूप से खेलने वाले लार्सन ने पीटीआई को दिये इंटरव्यू में कहा, ‘‘यह स्पष्ट है। हमारे अनुबंध में साफ है कि अगर किसी फ्रेंचाइजी ने खिलाड़ियों को चुना है तो उन्हें आईपीएल विंडो के लिये उपलब्ध कराया जायेगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब हमारे खिलाड़ियों केा आईपीएल फ्रेंचाइजी द्वारा चुना जाता है तो वे अपने खेल में सुधार कर सकते हैं। हम खिलाड़ियों में होने वाले सुधार को देख रहे हैं जो क्रिकेट के विकास का शानदार हिस्सा है। ’’लार्सन ने स्वीकार किया कि कार्यक्रम बनाना चुनौती हो सकता है लेकिन साथ ही इससे ज्यादा चिंतित होने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘कार्यक्रम को लेकर कुछ छोटी चुनौतियां आती हैं, जैसे इंग्लैंड दौरा जो आईपीएल तक खत्म किया जा सकता है। इसलिये खिलाड़ियों की उपलब्धता को लेकर चुनौती आती है। ’’लार्सन ने कहा कि न्यूजीलैंड क्रिकेट और खिलाड़ियों के बीच संबंध काफी शानदार हैं क्योंकि बोर्ड उनकी वित्तीय रूप से बेहतर होने की जरूरत को समझता है जिसके लिये फ्रेंचाइजी लीग, काउंटी क्रिकेट और ब्रिटेन में क्लब क्रिकेट खेलना अहम है।



hindi news portal lucknow

विराट को बिना बताए RCB ने किया बड़ा फैसला, कोहली बोले 'मैं कप्तान हूं, मुझे तो बताओ'

13 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की टी20 लीग इंडियन प्रीमियर लीग की स्टार्स से भरी टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने बुधवार को एक चौंकाने वाला फैसला लिया। आईपीएल की सबसे ज्यादा पावर स्टार्स से भरी टीम आरसीबी के प्रदर्शन ने हर बार अपने फैंस को हैरान किया है।विराट कोहली और एबी डिविलियर्स जैसे धुरंधर खिलाड़ियों के बावजूद टीम हर बार फ्लॉप रहती है। बुधवार को टीम ने अपने सोशल अकाउंट से टीम का लोगो हटा दिया जिसने फैंस के साथ कप्तान विराट कोहली को भी चौंका दिया। अचानक इस तरह से आरसीबी के ट्विटर अकाउंट से तस्वीर गायब होने के बाद से तरह तरह की बातें हो रही है। कयास लगाए जा रहे हैं कि शायद नए सीजन में टीम नए लोगो से साथ उतरेगी।

विराट को टीम के सोशल अकाउंट से लोगो को तस्वीर हटाए जाने की कोई जानकारी नहीं थी। जब उन्होंने यह देखा तो हैरान रह गए और इसको लेकर टीम प्रबंधन से सवाल भी कर दिया। उन्होंने ट्वीटर पर टीम को टैग करते हुए लिखा, पोस्ट गायब हो गया और कप्तान को कोई भी जानकारी नही दी गई। कृपया बताएं अगर आपको किसी मदद की जरूरत है।

वहीं बुधवार को ही टीम के स्पिनर युजवेंद्र चहल ने भी ट्वीटर से फोटो और लोगो गायब होने पर अपनी प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने लिखा था, अरे ये क्या गुगली है, आपके प्रोफाइल पिक्चर और इंस्टाग्राम पोस्ट कहां गायब हो गए।

एबी डिविलियर्स ने भी इस तरह से फोटो और लोगो गायब होने पर हैरानी जताई थी। उन्होंने सवाल करते हुए लिखा, आरसीबी के सोशल मीडिया अकाउंट को क्या हुआ। उम्मीद करता हूं यह बस रणनीतिक ब्रेक है।



hindi news portal lucknow

धैर्य की कमी थी, हम जीत के हकदार नहीं थे: कोहली

11 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

माउंट मोनगानुई। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला में 3-0 से सूपड़ा साफ होने के बाद मंगलवार को यहां खराब गेंदबाजी पर निशाना साधते हुए कहा कि टीम में धैर्य की कमी दिखी। न्यूजीलैंड ने तीसरे एकदिवसीय में भारत को पांच विकेट से हराकर श्रृंखला 3-0 से अपने नाम कर टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला में मिली 0-5 की हार का बदला चुकता किया। भारतीय टीम का एकदिवसीय श्रृंखला में 31 साल के बाद सूपड़ा साफ हुआ है। कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह में कहा, ‘‘ हम उतना खराब भी नहीं खेले जैसा कि श्रृंखला के अंतिम परिणाम में दिख रहा है। हमें जो मौके मिले हम उसे भुनाने में नाकाम रहे। हमारे प्रयास अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच को जीतने के लिए काफी नहीं थे।’’भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘गेंद से हम नियमित अंतरराल पर विकेट चटकाने में नाकाम रहे। हमारा क्षेत्ररक्षण बिल्कुल भी अच्छा नहीं रहा। हम इतना बुरा भी नहीं खेलें लेकिन जब आप मौके भुनाने में नाकाम रहेंगे तो फिर आप जीत के हकदार नहीं रहते।’’ उन्होंने कहा, ‘‘बल्लेबाजों ने कठिन परिस्थितियों से अच्छी वापसी की जो सकारात्मक संकेत है, लेकिन हमने जिस तरह से क्षेत्ररक्षण और गेंदबाजी की वह काफी नहीं था।’’ टूर्नामेंट मेंभारतीय गेंदबाजों की नाकामी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह पूरी श्रृंखला में एक विकेट भी नहीं ले सके और भारतीय आक्रमण एक बार भी न्यूजीलैंड की पूरी पारी को समेटने में नाकाम रहा। कोहली ने न्यूजीलैंड की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘न्यूजीलैंड ने शानदार तरीके से खेला। हम जीत के हकदार नहीं थे क्योंकि हमने धैर्य नहीं दिखाया।’’ भारतीय बल्लेबाजी की धुरी माने जाने वाले कोहली ने कहा कि टीम इस निराशा की भरपाई 21 फरवरी से शुरू हो रही टेस्ट श्रृंखला में करेगी। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि टेस्ट चैम्पियनशिप के कारण हर टेस्ट मैच का अपना महत्व है। टेस्ट में हमारी टीम काफी संतुलित है और हमें लगता है कि हम श्रृंखला जीत सकते हैं। लेकिन इसके लिए हमें सही मानसिकता के साथ मैदान में उतरना होगा।’’चोट के कारण श्रृंखला के पहले दोनों मैचों से बाहर रहने वाले न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने टीम के जज्बे की तारीफ की। उन्होंने 297 रन के चुनौतीपूर्ण लक्ष्य को आसानी से हासिल करने की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘‘यह शानदार प्रदर्शन था। बेहद शानदार, भारत ने हमें दबाव में डाला लेकिन हमारे खिलाड़ी गेंद और बल्ले से वापसी करने में सफल रहे। भारत के इस दौरे का दूसरा भाग हमारे लिए अच्छा रहा।’’ विलियमसन ने कहा, ‘‘हमें पता है वे हर प्रारूप में बेहतरीन टीम है लेकिन हमारे लिए खिलाड़ियों के काम को लेकर स्पष्टता जरूरी थी। एकदिवसीय टीम इस लय को लेकर आस्ट्रेलिया जाएगी। भारत जैसी मजबूत टीम के खिलाफ शानदार प्रयास।’’ इस मुकाबले में 80 रन की पारी खेल मैन आफ द मैच बने हेनरी निकोल्स ने कहा, ‘‘टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला में हारने के बाद 3-0 की जीत के साथ वापसी करना अच्छा रहा। आज जिस तरह से मार्टिन गुप्टिल ने बल्लेबाजी की उससे हमें काफी मदद मिली। हमारी किस्मत अच्छी थी कि इस श्रृंखला में हमें अच्छी शुरुआत मिली।’’



hindi news portal lucknow

LIVE Ind vs Ban U19 World Cup Final Match: भारतीय टीम 177 पर ढेर, बांग्लादेश के सामने आसान लक्ष्य

09 Feb 2020 [ स.ऊ.संवाददाता ]

नई दिल्ली। India vs Bangladesh U19 Cricket World Cup Final Match Live: भारत और बांग्लादेश की युवा टीमों के बीच ICC अंडर 19 वर्ल्ड कप 2020 का फाइनल मैच खेला जा रहा है। इस मैच में बांग्लादेश टीम के कप्तान अकबर अली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय पारी बांग्लादेश के गेंदबाजों के सामने पूरी तरह से लड़खड़ा गई और पूरे 50 ओवर भी नहीं खेल पाई। टीम इंडिया के बल्लेबाज 47.2 ओवर में 177 रन पर ऑल आउट हो गई। भारत की तरफ से यशस्वी जयसवाल ने 88 रन की पारी खेली। बांग्लादेश को जीत के लिए 178 रन बनाने हैं। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को अच्छी शुरुआत नहीं मिली। भारत ने पहला विकेट दबाव के चलते खो दिया। दिव्यांश सक्सेना 17 गेंदों में 2 रन बनाकर अविषेक दास की गेंद पर हसन के हाथों कैच आउट हो गए। भारत को पहला झटका 9 रन के कुल स्कोर पर लगा, लेकिन इसके बाद यशस्वी जायसवाल और तिलक वर्मा ने पारी को संभाला और स्कोर को 100 के पार ले गए।जायसवाल ने इस वर्ल्ड कप का अपना 5वां अर्धशतक पूरा किया। हालांकि, तिलक वर्मा 38 रन के निजी स्कोर पर हसन साकिब की गेंद पर शोरिफुल इस्लाम के हाथों कैच आउट हो गए। भारत को तीसरा झटका कप्तान प्रियम गर्ग के रूप में लगा जो 7 रन के निजी स्कोर पर रकीबुल हसन की गेंद पर साकिब के हाथों कैच आउट हुए। चौथा झटका भारत को यशस्वी जायसवाल के रूप में लगा जो 88 रन के निजी स्कोर पर शोरिफुल इस्लाम के शिकार बने। भारत का पांचवां विकेट सिद्धेश वीर के रूप में गिरा जो शोरिफुल इस्लाम की पहली ही गेंद पर lbw आउट हो गए। टीम को छठा झटका ध्रुव जुरेल के रूप में लगा जो 22 रन बनाकर रन आउट हो गए। 7वां विकेट भी रन आउट के रूप में गिरा जब रवि बिश्नोई 2 रन बनाकर आउट हुए। भारत का आठवां विकेट रवि बिश्नोई के तौर पर गिरा और वो दो रन बनाकर रन आउट हो गए। कार्तिक त्यागी बिना खाता खोले ही अविषेक दास की गेंद पर कैच आउट हुए। भारत का आखिरी विकेट सुशांत मिश्रा के तौर पर गिरा जो सिर्फ तीन रन बनाकर कैच आउट हो गए।

इस हाईवोल्टेज मुकाबले के लिए बांग्लादेश की टीम में एक बदलाव किया गया। वहीं, भारतीय टीम प्रियम गर्ग की कप्तानी में बिना किसी बदलाव के उतरी। बांग्लादेश ने हसन मुराद की जगह अविषेक दास को प्लेइंग इलेवन में जगह दी। वहीं, भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्वार्टरफाइनल और फिर पाकिस्तान के खिलाफ सेमीफाइनल में जिस प्लेइंग के साथ मैच जीता ।



12345678910...